समस्तीपुर Town

बदला कामकाज का तरीका, सरकारी विभागों में बरती जा रही सावधानी


कोरोना वायरस की वजह से लोगों की जीवनचर्या और दैनिक गतिविधियों के तरीके पूरी तरह बदल गए हैं। कारोबार उद्योग के अलावा नौकरी-पेशा लोगों के कार्य में परिवर्तन दिख रहा। लॉकडाउन की चुनौ

समस्तीपुर । कोरोना वायरस की वजह से लोगों की जीवनचर्या और दैनिक गतिविधियों के तरीके पूरी तरह बदल गए हैं। कारोबार, उद्योग के अलावा नौकरी-पेशा लोगों के कार्य में परिवर्तन दिख रहा। लॉकडाउन की चुनौतियों के बीच पुलिस विभाग ने अपनी कार्यप्रणाली में व्यापक बदलाव किया। सभी जगह संक्रमण के बचाव को सक्रियता बढ़ी है। सफाई, सैनिटाइजेशन और मास्क के उपयोग पर ज्यादा जोर दिया जा रहा। फरियादियों को सावधानी बरतने की नसीहत दी जा रही। पुलिस अधीक्षक कार्यालय और नगर व मुफस्सिल थाने में सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है। फरियादियों के आने पर उन्हें दूर बैठाया जा रहा और एक-एक करके उन्हें पेश किया जा रहा। बिना मास्क या रूमाल से मुंह ढके कोई पहुंच रहा तो उसे कैंपस से बाहर कर दिया जा रहा है। सबके लिए मास्क अनिवार्य, स्क्रीनिग भी जरूरी

कार्यालय के स्टाफ पहले ही उन्हें नसीहत दे देते हैं कि चेहरे पर मास्क का उपयोग करें। सभी अधिकारी व कर्मी भी मास्क का उपयोग कर रहे हैं। व्यवहार न्यायालय में थर्मल स्क्रीनिग की व्यवस्था की गई है। मास्क सभी के लिए अनिवार्य किया गया है। हर अधिकारी व कर्मचारी के कक्ष में सैनिटाइजर रखवाया गया है। बैंक परिसर व अस्पताल में भी सुरक्षा मानकों का पालन किया जा रहा। नगर परिषद में सफाई कर्मी मास्क व गलव्स लगाकर साफ-सफाई का कार्य करते हैं। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी कार्रवाई और विभागीय गतिविधियों की सूचना भी वाट्सएप ग्रुप में शेयर कर जानकारी मुहैया करा रहे। जिलाधिकारी भी प्रशासनिक ग्रुप पर जानकारी साझा कर रहे। अधिकारियों का कहना है कि समय पर लोगों को सूचना मिल जाए और किसी को परेशानी न होना पड़े, इसलिए ऐसा किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है। दुकानदारी का भी बदला तरीका

दुकानदारों ने भी व्यापार का तरीका बदल दिया है। शहर में दुकानदारों और ग्राहकों में शारीरिक दूरी और सैनिटाइजर के इस्तेमाल सहित कई बदलाव आए हैं। इसके साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी यह बदलाव देखने को मिला रहा है। लोग सुरक्षा व संक्रमण के बचाव के मानकों का पूरा ध्यान रखते हैं। हालांकि, सब जगह ऐसा हो रहा, यह दावा नहीं किया जा सकता। इसमें भी कई स्तर पर लापरवाही बरती जा रही। वर्जन

संक्रमण कहां से फैल सकता है इसके बारे में किसी को कुछ नहीं पता। इसलिए एहतियात बरती जा रही है। कार्यालय समेत सभी थानों में मास्क, सैनिटाइजर और शारीरिक दूरी का ख्याल रखा जा रहा है, ताकि संक्रमण से बचा जा सके।

Share This Post