समस्तीपुर Town

स्टाइल बदला, मॉडल बने, पर साइकिल की जरूरतें नहीं बदलीं

समस्तीपुर । याद कीजिए उस दौर को, जब साइकिल घर के दरवाजे की शोभा बढ़ाया करती थी। सैकड़ों में एक के पास होती थी। शान की सवारी थी। पर, समय बदला, जरूरतें बदलीं और सवारी का भी प्रारूप बदला। लेकिन, गांवों और सुदूर इलाकों में इसकी जरूरत नहीं बदली। अब तो यह हर घर की पहचान है। शहर में रहनेवाले लोग व्यस्त जीवनशैली के चलते फिटनेस पर खास ध्यान नहीं दे पा रहे। ऐसे में साइकिल की सवारी उन्हें बिगड़ती लाइफस्टाइल को काफी हद तक ट्रैक पर ला सकती। साइकिल इंडस्ट्री भी इस फिटनेस फंडे को बखूबी समझ चुकी है और यही वजह है कि कभी साधारण सी दिखने वाली साइकिल अब अल्ट्रा मॉडर्न होकर मार्केट की शान बन गई है।

दरअसल, साइकिल सेहत के लिए एक स्मार्ट चुनाव है, जिस किसी ने भी इसे चुना उसे इसकी असली कीमत का पता है। विश्व साइकिल दिवस की थीम भी इसकी इन्हीं खूबियों को बताती है। आसान, सस्ती, भरोसेमंद, स्वच्छ और पर्यावरण के अनुकूल।

पर्यावरण के लिए इको-फ्रेंडली है साइकिल

एक समय था, जब बाइक व कार आम लोगों की पहुंच से दूर थी। ज्यादातर लोग साइकिल पर सफर करते थे। स्कूली बच्चे भी साइकिल पर स्कूल पहुंचते थे। इससे जहां लोग स्वस्थ रहते थे, वहीं पर्यावरण प्रदूषण रहित था। लेकिन, धीरे-धीरे साइकिल का दौर खत्म हुआ और लोगों ने बाइक, कार व अन्य वाहन पर सफर करना शुरू कर दिया और लोगों को कई बीमारियों ने जकड़ लिया। अब एक बार फिर वही पुराना दौर लौटना शुरू हो गया है। फिर से साइकिलिग या वाकिग करने के बारे में सोचना शुरू किया जा रहा। सीढि़यां चढ़ने-उतरने, साइकिल चलाने या टहलने से जिदगी को लंबा करने में मदद मिल सकती है। फिट रहने का आसान उपाय साइकिलिग

सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी सह फिजिशियन डॉ. पंकज कुमार ने बताया कि साइकिलिग ही एक ऐसी एक्सरसाइज है, जिसमें शरीर की हर मसल का मूवमेंट होता है। इससे ओवरऑल फिटनेस हासिल की जा सकती। इसके साथ ही साइकिलिग करके डायबिटीज और दिल की बीमारी से भी बचा जा सकता। साइकिलिग से चर्बी घटती है और खून का बहाव तेज होता है। मोटापा, हृदय रोग और डायबिटीज के साथ ही कैंसर का भी खतरा बढ़ सकता है। वजन घटाने से लेकर मसल्स बनाने तक साइकिलिग बहुत फायदेमंद होती है। साथ ही, यह पूरे शरीर को मजबूत बनाती है। इससे फेफड़े अच्छी प्रकार से काम करने लगते हैं, पैरों की मांसपेशियां मजबूत बनती हैं और मोटापा भी कम होता है। यह दिल के लिए बहुत फायदेमंद होती है।

Share This Post