समस्तीपुर Town

विद्यापतिनगर में पसरा सन्नाटा, घरों में सिमटे लोग

समस्तीपुर । विद्यापतिनगर प्रखंड अंतर्गत बालकृष्णपुर इलाके में एक युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के तीसरे दिन बाद बुधवार को कंटेंनमेंट एरिया में अधिकारियों की चहलकदमी तेज हो गई है। जिलाधिकारी शशांक शुभंकर से मिले निर्देश के मुताबिक अधिकारियों के दल ने लोगों की रोजमर्रा की जरूरतों को देखते हुए आवश्यक वस्तुओं की डोर टू डोर सप्लाई को लेकर आवश्यक कार्रवाई प्रारंभ कर दी है। कंटेनमेंट एरिया की सड़कें सील होने से गांव में हर तरफ सन्नाटा है। इलाके के लोगों ने संक्रमण से बचाव के लिए खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है। फलत: कल तक गांव-गलियारों की सड़कों पर बेवजह घूमने वाले लोगों की दिनचर्या पूरी तरह से बदल गई है।

अंचलाधिकारी अजय कुमार ने कंटेनमेंट एरिया में आवश्यक वस्तुओं की डोर टू डोर सप्लाई के लिए माइकिग के जरिए आपूíतकर्ताओं की सूची जारी कर दी है। सीओ ने बताया कि इलाके के लोग आपूíतकर्ताओं के माध्यम से ही अपनी रोजमर्रा के सामान की खरीदारी करेंगे। उन्होंने कहा कि तय अवधि में किसी भी परिस्थिति में कंटेनमेंट एरिया की कोई भी दुकान खुली पाई जाने पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। उन्होंने इस मुश्किल समय में यूथ ब्रिगेड की टीम द्वारा मिल रहे सकारात्मक सहयोग की प्रशंसा करते हुए कहा कि संगठित व समन्वित प्रयास से ही प्रतिकूल परिस्थिति से निजात मिल सकती है। रोजाना क्षेत्र को किया जा रहा सैनिटाइज

कंटेनमेंट एरिया में संक्रमण से बचाव को लेकर फायर ब्रिगेड व स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा रोजाना सैनिटाइजिग का कार्य किया जा रहा है। वहीं, स्वास्थ्य विभाग की ओर से लोगों से स्वच्छता को अपनाने को लेकर बल दिया जा रहा। घर-घर जाकर स्वास्थ्य कर्मी लोगों की थर्मल स्क्रीनिग कर स्वास्थ्य संबंधी प्राप्त कर इसकी रिपोर्ट जिला प्रशासन को रोजाना अपडेट कर रहे। पुलिस गश्त हुई तेज, सीमा बंद क्षेत्रों में मजिस्ट्रेट प्रतिनियुक्त

अनुमंडलाधिकारी विष्णुदेव मंडल व एसडीओपी कुंदन कुमार ने सीमा बंद क्षेत्रों में सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से प्रशासनिक दंडाधिकारियों सहित आवश्यक पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति कर दी है। प्रशासनिक चौकसी के दरम्यान कंटेनमेंट एरिया में लागू नियमों को देखते हुए विशेष एहतियात बरतने की हिदायत दी है। इधर, बीडीओ प्रकृति नैयनम व सीओ अजय कुमार, प्रभारी थानाध्यक्ष महानंद सोरेन आदि ने मऊ बाजार का निरीक्षण करते हुए दुकानदारों को हर हाल में अपने अपने प्रतिष्ठानों को अगले आदेश तक बंद रखने की बात कही है। आदेश का पालन नहीं करने वालों पर दंडात्मक कार्रवाई का भी निर्देश दिया गया है। सड़कें रहीं वीरान, किसान हुए परेशान

आमतौर पर लॉकडाउन के दरम्यान किसानों की परेशानी बढ़ गई है। कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित होने के बाद जहां सीमा बंद इलाके की सड़कें वीरान हो गई हैं। वहीं, किसानों की कृषिगत समस्याओं ने मुसीबत खड़ी कर दी है। मक्का व सब्जी उत्पादकों सहित पशुपालकों को विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ रहा। इसे लेकर किसानों व यूथ ब्रिगेड की टीम ने मऊ लंगड़ा ढाले के समीप उत्तरी हिस्से में की गई बैरिकेडिग की सीमा बढ़ाने की मांग अधिकारियों से की है। अंचलाधिकारी अजय कुमार ने कहा कि स्थलीय निरीक्षणोपरांत वरीय पदाधिकारियों के परामर्श के बाद दिशा-निर्देश दिए जाएंगे।

Share This Post