समस्तीपुर Town

Samastipur: दायरों में सिमटे लोग, सड़क पर पुलिस का पहरा

समस्तीपुर। जिले में दूसरी बार फिर से हुए लॉकडाउन के चलते लोग दायरों में सिमट गए हैं। इसके साथ ही सड़कों पर वाहनों का आवागमन भी कम हो गया है। शहर में अधिकांश दुकान व व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में ताला लगा है। बस पड़ाव जैसे भीड़ भाड़ वाले इलाके पूरी तरह वीरान नजर आ रहे हैं। सड़क पर यात्री वाहनों की जगह ऑटो व ई-रिक्शा का परिचालन किया जा रहा है। वैसे लोगों की आवश्यकता को देखते हुए खाद्य सामग्री, किराना, फल-सब्जी, दूध, दवा, पशु चारा, कृषि यंत्र, व स्पेयर पार्टस की दुकानें खुली है। बैंक, एटीएम समेत स्वास्थ्य संबंधी आवश्यक गतिविधियां संचालित की जा रही है। गुरुवार को बाजार खुलते ही पुलिस मुस्तैद हो गई। लोग भोजन के समान, दवा, दूघ खरीदने के लिए घरों से बाहर निकले। दोपहर तक क‌र्फ्यू जैसा माहौल रहा। शाम होते ही सन्नाटा पसर गया। सिर्फ एंबुलेंस स्वास्थ्य और पुलिस विभाग की ही गाड़ियां सड़कों पर दौड़ती नजर आई। बता दें कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को लेकर जिले में 31 जुलाई तक लॉकडाउन प्रभावी है। इस दौरान लोगों को सुरक्षा व ऐहतियात बरतनने के निर्देश दिए गए हैं। सड़क पर पुलिस की निगरानी

लॉकडाउन की निगरानी को लेकर सड़क व चौराहों पर पूरी तरह सन्नाटा पसरा रहा। जगह-जगह पुलिस बैरिकेडिग कर निगरानी करती रही। हर आने जाने वालों की जांच की गई। इस दौरान बिना मास्क व हेलमेट के बाइक सवार कई चालकों का चालान भी किया। पुलिस अधीक्षक विकास वर्मन, सदर अनुमंडल पदाधिकारी अशोक मंडल समेत प्रशासन व पुलिस के पदाधिकारी दिन भर भ्रमण कर स्थिति का जायजा लेते रहे। पुलिस अधीक्षक ने लोगों को कोरोना महामारी से बचने के लिए सुरक्षा और एहतियात बरततने की अपील की। कहा कि आवश्यक कार्य हो तभी घर से बाहर निकलें। शारीरिक दूरी बनाकर रखें। चेहरे पर मास्क का उपयोग करें। मौके पर सदर डीएसपी प्रितिश कुमार, अंचलाधिकारी धर्मेन्द्र पंडित, नगर थानाध्यक्ष सीताराम प्रसाद, मुफस्सिल थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य समेत दर्जनों पुलिस कर्मी मौजूद रहे।

Share This Post