रोसड़ा

Rosera News: रोक के बावजूद खोलीं दुकानें, छह दुकानदारों के विरुद्ध लॉकडाउन उल्लंघन का मामला

समस्तीपुर : लॉकडाउन के दौरान रोक के बावजूद दुकान खोल कर कपड़ा बेचना रोसड़ा के आधा दर्जन दुकानदारों को महंगा पड़ा। उक्त सभी रेडिमेड और कपड़ा दुकानदारों के विरुद्ध पुलिस द्वारा रोसड़ा थाने में प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। इसमें लॉकडाउन का उल्लंघन करने तथा भीड़ लगाकर कोरोना संक्रमण फैलाने की गतिविधियों में लिप्त रहने का आरोप लगाया गया है। आरोपित प्रतिष्ठानों में शहर के सिनेमा चौक स्थित महतो वस्त्रालय, फैशन व‌र्ल्ड एवं इंडियन फैशन, ग‌र्ल्स हाईस्कूल रोड स्थित पिया बावरी- चौधरी फैशन, महावीर चौक के निकट स्थित हनुमान वस्त्रालय तथा ब्लॉक रोड में प्रभात ड्रग्स के सामने स्थित गणेश दास का कपड़ा दुकान शामिल है। निर्देशों का पालन करने की अपील

पुलिस पदाधिकारी के बयान पर उक्त सभी प्रतिष्ठानों के संबंधित व्यवस्थापक के विरुद्ध रोसड़ा थाने में प्राथमिकी संख्या 148/2020 दर्ज की गई है। थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर अमित कुमार ने इस आशय की पुष्टि करते हुए कहा कि लगातार लॉकडाउन का पालन करने से संबंधित प्रचार-प्रसार जारी है। बावजूद इन दुकानदारों द्वारा भीड़ लगाकर कपड़ा बेचने की शिकायत प्राप्त हो रही थी। पूर्व में भी एक रेडिमेड दुकानदार को दुकान से कपड़ा बेचते हुए पकड़ा गया था, जिसे चेतावनी देते हुए बंधपत्र पर मुक्त कर दिया गया था। लगातार पुलिस द्वारा दुकानदारों से लॉक डाउन के दौरान सरकार व प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का पालन करने की अपील की जा रही है। बावजूद कुछ दुकानदारों द्वारा खुल्लम खुल्ला आदेश का उल्लंघन किया गया है। उन्होंने बताया कि सोमवार की सुबह पुलिस द्वारा शहर में किए गए फ्लैग मार्च के दौरान कपड़ा व रेडीमेड की उक्त दुकानें खुली पाई गईं। अधिकतर दुकानों पर भीड़-भाड़ भी लगी थी। इन दुकानों को चिह्नित कर नियमानुकुल कार्रवाई प्रारंभ की गई है। चोरी-छिपे दुकान खोलने वालों में हड़कंप

रोसड़ा पुलिस द्वारा सोमवार की सुबह लॉक डाउन उल्लंघन के विरुद्ध एक साथ आधा दर्जन दुकानदारों पर की गई कार्रवाई से चोरी छुपे सामग्री बेचने वाले विक्रेताओं में हड़कंप मच गया है। अन्य दिनों में बाहर से शटर बंद कर अंदर दुकानदारी करने वाले विक्रेताओं ने भी आज पूरे दिन इससे परहेज करते ही देखे गए। वहीं, घर से दुकानदारी करनेवाले व्यवसायी भी चौकन्ना ही रहे। सूत्रों की मानें तो ईद पर्व को ले व्यवसायियों द्वारा सामग्री बेचने का तरह-तरह की तरकीब अपनाई जा रही। लेकिन, अचानक आज पुलिस का कड़ा रुख देख सभी सहमे व सतर्क थे।

Share This Post