समस्तीपुर Town

समस्तीपुर के पूसा में पसरा सन्नाटा, सभी सीमाएं लॉक

समस्तीपुर : पूसा प्रखंड क्षेत्र में कोरोना पॉजिटिव की सूचना मिलते ही लोग सहम गए हैं। प्रखंड से सटे इलाके में सभी सीमाएं सील हो गई हैं। आसपास के इलाके में भी प्रशासनिक चौकसी बढ़ गई है। उल्लेखनीय है कि प्रखंड की दक्षिणी हरपुर पंचायत इलाके में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। ग्रामीणों के अनुसार, वह पांच दिन पहले दिल्ली से अपने गांव एंबुलेंस से पहुंचा था। घरवालों ने इस मामले को पहले छुपा कर रखा। जब उसमें खांसी की शिकायत देखी गई तो आसपास के लोगों ने प्रशासन को इसकी सूचना दी। जहां पर आठ मई को प्रशासन द्वारा उसे सहकारिता प्रशिक्षण केंद्र क्वारंटाइन सेंटर लाया गया। वहां उसके सैंपल को जांच के लिए भेजा गया। 11 मई की देर रात उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। घरवालों को किया गया आइसोलेट

धर, रिपोर्ट की जानकारी होते ही प्रशासनिक चौकसी बढ़ गई। अधिकारियों ने उक्त व्यक्ति के घर पर पहुंचकर बेटा, बहू, पत्नी सहित पांच लोगों को आइसोलेट कर दिया गया है। ग्रामीणों में प्रतिनिधियों के प्रति काफी आक्रोश व्याप्त है, क्योंकि इस महामारी में पंचायत में एक बार भी सैनिटाइजर नहीं किया गया और न ही प्रतिनिधियों द्वारा बाहर से आए प्रवासियों पर ध्यान दिया गया। जबकि, बगल की पंचायत दीघरा में लॉकडाउन के दौरान कई बार सैनिटाइजर एवं सभी लोगों के बीच बचाव हेतु ब्लीचिग पाउडर से लेकर मास्क, साबुन व सैनिटाइजर बांटे गए। अब कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उक्त क्षेत्र को सैनिटाइजर करने की योजना बन रही। पुत्र को देखने गए थे दिल्ली

प्रखंड हरपुर नारायणपुर में मिलनेवाला कोरोना पॉजिटिव लॉकडाउन से पूर्व दिल्ली अपने पुत्र को देखने गया था। पुत्र दिल्ली में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इसी दौरान लॉकडाउन प्रारंभ हो गया। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार, इसी बीच मुजफ्फरपुर की तरफ आ रही एंबुलेंस पर बैठकर मुजफ्फरपुर के पिपरी के पास उतर गए। उसके बाद दूसरे पुत्र मोटरसाइकिल पर बैठाकर घर लाया। ग्रामीणों का कहना है कि इसके बाद उसके परिवार वालों ने कोई भी परहेज नहीं किया। प्रशासन अब इनके संपर्क में आए लोगों की तलाश में जुटा है। प्रवासियों की बढ़ रही संख्या, बढ़ाए जा रहेक्वारटाइन सेंटर

स्थानीय प्रशासन के द्वारा प्रवासियों की बढ़ रही संख्या एवं हो रही परेशानियों को देखते हुए दो और क्वारटाइन सेंटर को साफ-सफाई कराया जा रहा है। डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय स्थित ब्रह्मदेव राय महिला कॉलेज एवं बालिका उच्च विद्यालय को स्थानीय वीडियो राकेश कुमार रोशन एवं सीओ संतोष कुमार श्रीवास्तव द्वारा साफ-सफाई कर बाहर से आनेवाले प्रवासियों की व्यवस्था की जा रही। वह दीघरा मध्य विद्यालय पर स्थित क्वारंटाइन सेंटर पर लगभग दो दर्जन प्रवासी पहुंचे हैं, जिनकी व्यवस्था स्थानीय मुखिया सुनील कुमार सुमन एवं सरपंच अमोद कुमार शर्मा कर रहे हैं। विगत दो दिनों से प्रवासियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हो रही।

Share This Post