दलसिंहसराय

दलसिंहसराय में बाजार समिति में खुली आढ़त, लोगों को राहत

समस्तीपुर । दलसिंहसराय में कोरोना मरीज मिलने के बाद सब्जी आढ़त को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया था। इसके कारण बाजार समिति को पूरी तरह बंद कर दिया गया। न तो किसान यहां आकर सब्जी बेच सकते थे और न हीं व्यापारी खरीदारी करने के लिए ही आ सकते थे। सब्जी आढ़त बंद होने से किसानों की सब्जियां बर्बाद होने लगीं। यह देख किसानों ने एसडीओ से सब्जी बेचने के लिए स्थान चिन्हित करने की मांग की। एसडीओ ज्ञानेंद्र कुमार ने किसानों की मांग पर तुरंत अमल करते हुए बाजार समिति परिसर में सब्जी आढ़त लगाने का निर्देश जारी कर दिया। एसडीओ के निर्देश पर गुरुवार को बाजार समिति परिसर में दर्जनों सब्जी कारोबारियों के साथ किसानों ने सब्जी की थोक बिक्री के लिए दुकानें सजाई।

बाजार सजते ही किसानों के साथ आस-पास के लोगों में दिखी खुशी

दो दशक पहले किसानों की सुविधा को लेकर सरकार ने बाजार समिति का निर्माण कराया था। लेकिन निर्माण से लेकर वर्तमान समय तक इस बाजार समिति में कृषि उत्पादन की बिक्री पहली बार शुरू हुई है। यह देख लोगों के चेहरे पर खुशी स्वभाविक था। इसके साथ ही कई दिनों से सब्जी आढ़त के बंद होने से अपनी फसलों को फेंकने पर मजबूर किसानों के लिए भी यह राहत भरा कदम था। इससे किसानों के साथ- साथ व्यवसायी भी खुश दिखे।

बाजार समिति में नियमित रहा सब्जी बाजार तो होंगे कई फायदे

शहर से कुछ दूर तथा घनी आबादी से दूर बाजार समिति में सब्जी आढ़त अगर नियमित रूप से लगने लगी तो शहर के लोगों के साथ-साथ किसानों को भी फायदा होगा। सबसे बड़ा फायदा सड़क जाम की समस्या से निजात मिलेगी। गुदरी रोड के पास निजी जमीन में सब्जी आढ़त के कारण हर समय जाम की स्थिति रहती थी। बलान नदी के किनारे होने के कारण सब्जी का कचरा भी लोग बलान नदी में फेंकते थे । जिससे बलान नदी प्रदूषित हो रही थी। इसके साथ- साथ बाजार समिति में सब्जी आढ़त खुलने से शहर का दायरा भी बढेगा। जिससे इस क्षेत्र का भी विकास होगा। वहीं लोगों की आमदनी भी बढेगी। बाजार समिति से एक पास से एक एनएच 28 और एसएच 88 दो सड़क गुजरती है। जिससे सब्जियों का कारोबार बढ़ेगा। वही रेलवे स्टेशन और बाजार सब्जी ले जाने के लिए लोग ठेला रिक्शा का प्रयोग करेंगे तो इन लोगों को भी काम मिलेगा। जिससे उनकी आय बढेगी।

किसानों ने प्रशासन का जताया आभार

बाजार समिति में सब्जी आढ़त लगाने की अनुमति के बाद मालपुर,पगड़ा, बम्बइया हरलाल, अजनौल, रामपुर जलालपुर, केवटा,मोख्तियारपुर, हरिशंकर पुर सहित कई गांवों के किसानों ने प्रशासन का आभार जताया है। रंजीत कुमार मेहता, उत्तम कुमार, बिनोद कुमार महतो,अजित कुमार, सावित्री देवी,चंद्रकांत महतो,रामसागर महतो,रमेश कुमार, राम प्रकाश महतो, राहुल कुमार, हरे राम सहनी समेत कई किसानों और सब्जी मंडी के दुकानदारों ने अनुमंडल प्रशासन का इसके लिए आभार जताया है।

Share This Post