समस्तीपुर Town

कोटा में फंसे समस्तीपुर के सैकड़ों छात्र के लिये कोई स्पेशल ट्रेन नहीं चली

कोटा से विभिन्न स्थानों के लिये छात्र स्पेशल कई ट्रेन चलायी गयी। लेकिन समस्तीपुर के छात्रों के लिये कोई स्पेशल ट्रेन नहीं चली। इससे समस्तीपुर के सैकड़ों छात्र अभी भी कोटा में फंस हुए हैं। कोटा में फंसे अन्य जिला के छात्रों की घर वापसी के बाद समस्तीपुर के अभिभावकों की बेचैनी बढ़ गयी है। उधर, कोटा में फंसे छात्र भी काफी परेशान हैं। हॉस्टलों के अन्य छात्रों के जाने बाद बचे हुये छात्रों एवं उनके अभिभावकों की परेशानी बढ़ना लाजिमी भी है। इसको लेकर अभिभावक अपने-अपने बच्चों की घर वापसी को लेकर विधायक, मंत्री से लेकर जिला प्रशासन तक की गुहार लगा रहे हैं। वहीं समस्तीपुर जिला प्रशासन द्वारा अन्य राज्यों में फंसे छात्रों को घर वापसी के लिये वाहनों का पास निर्गत नहीं किया गया है। वहीं कोटा से अंतिम स्पेशल ट्रेन के आ जाने के बाद इन अभिभावकों की परेशानी बढ़ गयी है।

समस्तीपुर के लिये नहीं चली स्पेशल ट्रेन : कोटा में फंसे छात्रों के लिये समस्तीपुर के लिये ना तो कोई बस चली है और ना ही कोई ट्रेनें चली है। जिसके कारण जिले के सैकड़ों छात्र कोटा में ही रहने को मजबूर हैं। कल्याणपुर मिर्जापुर के निवासी एलआईसी अधिकारी शिवजी पासवान ने बताया कि समस्तीपुर के लिये अब तक कोई स्पेशल ट्रेन नहीं चली। वाहन का पास भी नहीं मिल रहा है। स्वास्थ्य कर्मी रमेश प्रसाद भी अपनी पुत्री स्नेहा के घर वापसी नहीं होने से काफी परेशान हैं। लेकिन सरकार व प्रशासन कोई व्यवस्था नहीं कर पा रही है। अभिभावकों ने बताया कि हॉस्टल के अधिकांश छात्र निकल गये हैं। इसके कारण बच्चों में डर समा गया है।

Share This Post