जरूर पढ़ें

बस-ट्रेन-फ्लाइट, राशन कार्ड और पेट्रोल- 1 जून से होने जा रहे हैं आपके काम के ये 5 बड़े बदलाव

1 जून (1 June) से कई नियमों में बदलाव होने जा रहा है, जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ेगा. इसमें राशन कार्ड (Ration Card) से लेकर रेलवे (Indian Railway) और एयरलाइन (Indian Airline) से जुड़ें कई चेंज शामिल हैं. देशभर में चल रहे लॉकडाउन के बीच जहां 1 जून से रेलवे 200 ट्रेन चलाने जा रहा है. वहीं, गैस सिलेंडर (Gas Cylinder) के दाम में भी बदलाव होगा. आइए आपको बताते हैं कि 1 जून 2020 के बाद आपकी जिंदगी कितनी बदल जाएगी…

वन नेशन वन कार्ड स्कीम

देशभर में 1 जून से वन नेशन वन कार्ड (One Nation, One Ration Card) स्कीम लागू हो जाएगी. इस स्कीम को देशभर के 20 राज्यों में लागू किया जा रहा है. इस स्कीम के लागू होने के बाद आप किसी दूसरे राज्य के सरकारी राशन केंद्र से भी राशन खरीद सकेंगे. केंद्र सरकार की इस योजना का मकसद देश के गरीबों को बड़ी संख्या में राशन मुहैया कराना है.

रेलवे ट्रैक पर दौड़ेगी 200 ट्रेनें

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण लगे लॉकडाउन (Lockdown 4.0)  के बाद इंडियन रेलवे ने भी 1 जून से ट्रेनें चलाने का फैसला लिया है. रेलमंत्री पीयूष गोयल के मुताबिक, रेलवे की ओर से 200 ट्रेनें चलाने का ऐलान किया गया है. इन ट्रेनों में ऑनलाइन बुकिंग चल रही है. लॉकडाउन में अगर आप किसी भी शहर में फंसे हैं तो इन ट्रेनों की मदद से अपने घर पहुंच सकते हैं. ये सभी ट्रेनें अपने टाइम टेबल के अनुसार पहले की तरह ही चलेंगी. 

शुरू हो रही गोएयर फ्लाइट्स

इसके अलावा GoAir भी अपने घरेलू उड़ाने 1 जून से शुरू करने जा रही है. वैसे तो कई कंपनियों ने घरेलू उड़ाने 25 मई शुरू कर दी हैं, लेकिन GoAir ने 1 जून से शुरू करने का प्लान बनाया है. सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी के मुताबिक, लॉकडाउन के बाद हवाई सफर करने के लिए आपको कई तरह के नए नियमों का पालन करना होगा. 

1 जून से चलेंगी उत्तर प्रदेश रोडवेज

इसके अलावा यूपी में 1 जून से रोडवेज बसें चलाने की भी घोषणा की गई है. राज्य सरकार ने 30 मई तक बसों को सैनेटाइज और फिट करने के आदेश दिए हैं. बस संचालन के दौरान जारी गाइडलाइन का पालन कराने की जिम्मेदारी बस अड्डा प्रभारी से लेकर ड्राइवर-कंडक्टर की होगी. मास्क पहने व्यक्ति को ही बस अड्डा परिसर में प्रवेश की छूट रहेगी. बस में कंडक्टर सीट के सामने सेनेटाइजर की बोतल रखी होगी. सेनेटाइज करने के बाद ही यात्री बैठेंगे.   

गैस सिलेंडर और पेट्रोल के दाम

इसके अलावा हर महीने की 1 तारीख को गैस सिलेंडर के रेट्स में भी बदलाव होता है. पिछले महीने गैस सिलेंडर के रेट्स काफी कम हुए थे. इस बार 1 जून को गैस सिलेंडर के भाव में भी बदलाव होगा. लॉकडाउन 4.0 में तरह की ढील दी गई है, कई राज्यों ने पब्लिक और प्राईवेट ट्रांसपोर्ट को खोल दिया है जिससे फ्यूल की मांग में इजाफा हुआ है. इसके अलावा 1 जून से पेट्रोल-डीजल के भाव में भी इजाफा हो सकता है. लॉकडाउन के बीच कई राज्य सरकार ने तेल पर VAT बढ़ा दिया है.

Share This Post