समस्तीपुर Town

विभिन्न शहरों से आए प्रवासी मजदूरों को समस्तीपुर रेलमंडल में मिलेगा काम

समस्तीपुर । लॉकडाउन के दौरान देश के विभिन्न शहरों से आए प्रवासी मजदूरों को समस्तीपुर रेलमंडल में भी काम मिलेगा। रेलवे बोर्ड के निर्देश के बाद रेलमंडल ने योजना पर काम शुरू दिया है। अभी तक अभियंत्रण विभाग ने पौधारोपण की योजना बनाई है। इसके अलावा अर्थ वर्क, ग्राउंड वर्क, पीच वर्क आदि में भी काम होने हैं।

रेलमंडल के समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड के अलावा मधेपुरा समेत विभिन्न जगहों पर पौधारोपण की योजना रेलमंडल ने बनाई है। इसका भुगतान राज्य सरकार करेगी। हालांकि, अभी तक इसका प्रारूप नहीं बन पाया है कि मंडल में पौधारोपण से कितने कार्य दिवस सृजित होंगे। मंडल वाणिज्य प्रबंधक ने बताया कि अभी सभी विभाग अपने-अपने स्तर से कार्ययोजना बना रहे हैं। बहुत जल्द यह सामने होगा। बताया कि प्रवासी मजदूरों की मदद से रेलवे की परियोजनाओं के निष्पादन में तेजी आएगी और बेरोजगार हुए मजदूरों को काम का अवसर भी मिलेगा। रेलवे के फील्ड स्तर के अधिकारियों को स्थानीय प्रशासन और ग्राम पंचायतों से संपर्क में रहने का निर्देश दिया गया है। रेलवे के अधिकारी रेलवे परियोजनाओं में संविदा कार्य के लिए उपलब्ध मानव दिवस की गणना भी करेंगे।

पौधारोपण के तहत काम करनेवाले मजदूरों की मजदूरी देगी प्रदेश सरकार

समस्तीपुर मंडल में पौधारोपण के तहत काम करनेवाले प्रवासी मजदूरों की मजदूरी प्रदेश सरकार देगी। रेलवे को तय करना है कि पौधारोपण के तहत कौन-कौन से काम मनरेगा के तहत मजदूर करेंगे।

बाउंड्रीवाल बनाने में भी हो सकता उपयोग

समस्तीपुर रेलमंडल के कई खंडों पर जंक्शन के पास ट्रैक किनारे प्रस्तावित बाउंड्री वाल निर्माण में प्रवासी मजदूर लगाए जा सकते हैं। ट्रैक पर मवेशियों व आम आदमियों की आवाजाही को रोकने के लिए रेलमंडल ने चहारदीवारी बनाने की योजना तैयार की थी। इसमें कई जगहों पर निर्माण कार्य हुआ तो कई पर निर्माण कार्य अभी भी बाकी ही है।

वर्जन

रेलवे बोर्ड से प्राप्त निर्देश के आलोक में समस्तीपुर रेलमंडल में भी प्रवासी मजदूरों को काम देने को लेकर योजना बनाई जा रही। बहुत जल्द एक संपूर्ण कार्ययोजना तैयार मिलेगी। फिलहाल, अभियंत्रण विभाग ने पौधारोपण की योजना बनाई है। इसके बाद जिलाधिकारी से बात होगी, तब जाकर योजना कार्यान्वित होगी। प्रसन्न कुमार

मंडल वाणिज्य प्रबंधक, समस्तीपुर

Share This Post