जरूर पढ़ें

LIVE Wine Shop News Updates: उंगली पर स्याही लगाने से होम डिलिवरी तक, जानें राज्यों ने क्या कदम उठाए

नई दिल्ली : कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच राज्यों ने शराब के ठेके खोल दिए हैं। इसके बाद शराब के ठेकों पर भीड़ चिंता बनी तो राज्यों ने इसके लिए अगल-अलग नुस्खे निकालना शुरू कर दिए। ताकि, राजस्व भी बढ़े और लोगों को समस्या कम हो। इसके लिए कहीं लोगों की उंगली पर स्हायी लगाई जा रही तो कहीं होम डिलिवरी की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा राज्य कोरोना चार्ज, ई-टोकन समेत कई अन्य नुस्खें अजमा रहे हैं।

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार दिल्ली के गोल मार्केट में एक शराब की दुकान के बाहर लोगों की काफी भीड़ दिखी।पुलिस लोगों को यहां से हटा रहे हैं क्योंकि सरकार ने इसके लिए ई-टोकन जारी किया है इस टोकन के जरिए ही अब लोग शराब खरीद सकेंगे।शराब की दुकानों पर भीड़ को देखते हुए ये फैसला लिया गया ताकि सामाजिक दूरी बनी रहें।

मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में शराब खरीदने वाले लोगों की उंगली पर स्याही लगाई जा रही है। जिले के आबकारी अधिकारी अभिषेक तिवारी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि इसका इस्तेमाल जरूरत पड़ने पर निकट भविष्य लोगों को ट्रैस करने के लिए किया जा सकता है। समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार इसके अलावा, सभी ग्राहकों को शराब की दुकानों पर रखे रजिस्टर में अपना नाम, पता और मोबाइल नंबर डालने के लिए कहा जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि नॉन कंटेनमेंट जोन में 50 शराब की दुकानें खोली गई हैं, लेकिन ज्यादा भीड़ नहीं देखी गई है।

लॉकडाउन की वजह से लगभग 40 दिन बाद जब शराब के ठेके खुले तो वहां लंबी लाइन लग गई। शारीरिक दूरी का भी खूब उल्लंघन किया गया। इससे बचन के लिए छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में होम डिलिवरी की सुविधा शुरू की गई। दिल्ली में ई-टोकन की सुविधा शुरू की गई है।

लॉकडाउन की वजह से लगभग 40 दिन बाद जब शराब के ठेके खुले तो वहां लंबी लाइन लग गई। शारीरिक दूरी का भी खूब उल्लंघन किया गया। इससे बचन के लिए छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में होम डिलिवरी की सुविधा शुरू की गई। दिल्ली में ई-टोकन की सुविधा शुरू की गई है।

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार दिल्ली के कृष्णा नगर में शराब लेने के लिए लोगों की लंबी लाइन लगी है। कुछ लोगों ने लाइन में अपनी जगह पर पत्थर रखे हैं। वहीं, वसंत विहार में एक शराब की दुकान के बाहर लोगों ने अपनी जगहों पर हेलमेट, बोतल, बैग और बोरी इत्यादि से लाइन बनाया।शोक नगर में शराब की दुकान के बाहर लोग ई-कूपन के जरिए शराब खरीदते हुए।

बता दें कि 17 मई तक लॉकडाउन को बढ़ाए जाने के बाद, गृह मंत्रालय (MHA) ने शराब की दुकानें खोलने की अनुमति देने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए।

Share This Post