समस्तीपुर Town

कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में नियुक्त होंगे शिक्षक, प्रक्रिया तेज

समस्तीपुर । जिले में शिक्षा परियोजना अंतर्गत संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में शिक्षकों की कमी दूर की जाएगी। शिक्षकों की नियुक्ति संबंधी कवायद जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय की ओर से तेज कर दी गई है। बहाली संबंधी विज्ञापन प्रकाशित किया गया है, ताकि अभ्यर्थी आवेदन भर सकें। स्वीकृत पद के आधार पर शिक्षिका की बहाली होगी। इसको लेकर विभागीय स्तर पर प्रक्रिया चल रही है। इसमें अंशकालिक भाषा, सामाजिक विज्ञान, गणित एवं विज्ञान विषय की शिक्षिका, अनुसेवक, रात्रि प्रहरी, मुख्य रसोईया के पदों पर कर्मियों का नियोजन तीन वर्षों या योजना समाप्ति की अवधि जो पहले हो के लिए संविदा के आधार पर किया जाना है। इसमें शिक्षिका पद का नियोजन लिखित परीक्षा एवं अन्य पदों पर साक्षात्कार के आधार पर चयन किया जाएगा। इन स्थानों पर होगी नियुक्ति

अंशकालिक भाषा शिक्षिका, विज्ञान एवं गणित शिक्षिका, सामाजिक विज्ञान शिक्षिका, अनुसेवक, रात्रि प्रहरी और सहायक रसोईया का पद हसनपुर, शिवाजीनगर, उजियारपुर, विद्यापतिनगर व वारिसनगर स्थित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में पद रिक्त है। इसके अलावा समस्तीपुर, विभूतिपुर, बिथान, दलसिंहसराय, खानपुर, पूसा व सरायरंजन में भी रात्रि प्रहरी, मुख्य रसोईयों और सहायक रसोईया का पद रिक्त है। इस आधार पर ली जाएगी नियुक्ति

अंशकालिक भाषा शिक्षिका, विज्ञान, गणित एवं सामाजिक विज्ञान शिक्षिका के पद पर प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में दो वर्षीय प्रशिक्षण/दो वर्षीय डीएलएड/बीएड, शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण एवं स्नातकोत्तर उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दी जाएगी। प्रशिक्षित एवं टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों की अनुपलब्धता की स्थिति में सामान्य शैक्षणिक योग्यताधारी अभ्यर्थी के नियोजन पर विचार किया जाएगा। मुख्य रसोईया और सहायक रसोईया पद पर मैट्रिक उत्तीर्ण अभ्यर्थी की अनुपलब्धता की स्थिति में ही पंचम उत्तीर्ण अभ्यर्थी का चयन किया जाएगा। अनुसेवक और रात्रि प्रहरी को साइकिल चलाने का ज्ञान आवश्यक किया गया है। आवेदकों की उम्र सीमा का किया गया निर्धारण

आवेदन पत्र समस्तीपुर की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है। आवेदक को अनिवार्य रुप से बिहार राज्य के निवासी होंगे। अभ्यर्थियों से परीक्षा शुल्क के रूप में दो सौ रुपये की राशि ली जाएगी, जो वापस नहीं होगी। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, निशक्त अभ्यर्थियों से कोई परीक्षा शुल्क नहीं लिया जाएगा। आवेदक की आयु एक अगस्त 2019 को न्यूनतम 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु अनारक्षित पुरुष के लिए 37 वर्ष, पिछड़ा वर्ग, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, अनारक्षित महिला के लिए 40 वर्ष तथा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति 42 वर्ष होगा। वर्तमान में कार्यरत जो व्यावसायिक अनुदेशिकाएं, अंशकालिक शिक्षिका की योग्यता धारण करती हो, तथा उक्त पद पर कार्य करने को इच्छुक हों, उन्हें अधिकतम आयु सीमा में पांच वर्षों की छूट दी जाएगी।

Share This Post