समस्तीपुर Town

समस्तीपुर आया तो चाय जरूर पिला देना भाई.., युवक की अपील पर सोनू सूद ने दिया जवाब

समस्तीपुर । अभिनेता सोनू सूद प्रवासियों को घर पहुंचाने में मदद कर रहे। समस्तीपुर के एक युवक ने उनसे घर पहुंचाने को लेकर मदद की मांग की तो घर तक पहुंचाने का वादा किया। समस्तीपुर के विद्यापतिनगर निवासी मो. नदीम ने ट्वीट किया कि ‘सोनू सूद सर, हम मुंबई में हैं और बिहार के समस्तीपुर जाना चाहते हैं। सर, प्लीज हमें बिहार जाने का कोई रास्ता बताइए’। इसका जवाब देते हुए सोनू सूद ने लिखा कि रास्ता पूछ के क्या करोगे भाई? घर ही छोड़ के आता हूं। कभी समस्तीपुर आया तो चाय जरूर पिला देना। सोनू सूद का यह जवाब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए देशभर में लॉकडाउन है। लॉकडाउन को लेकर यात्रा पर भी रोक लगी थी। ऐसे में देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी घर लौटने को बेताब हैं। उनकी मदद करने के लिए कई सितारे सामने आए। लेकिन, अभिनेता सोनू सूद लगातार उनकी मदद कर रहे। अब प्रवासी भी उनसे ज्यादा उम्मीदें लगाने लगे हैं। सोनू ने कुछ दिन पहले प्रवासियों को घर पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था की थी। लौटने की जगी आस

समस्तीपुर जिले के विद्यापतिनगर प्रखंड की मनियारपुर पंचायत स्थित रहीमपुर प्यारे गांव निवासी मो. नदीम ने सोनू सूद के ट्विटर एकाउंट पर घर पहुंचाने को लेकर ट्वीट किया था। उसने बताया कि वह अगस्त 2019 में मुंबई लौटा था। इस साल मई में ईद पर फ्लाइट का टिकट था। लेकिन, लॉकडाउन की वजह से वह घर नहीं लौट पाया। उसे सोशल मीडिया के माध्यम से पता चला कि अभिनेता सोनू सूद घर पहुंचाने में मदद कर रहे हैं। ऐसे में उसने ट्वीट किया। जिसपर उसे मदद को लेकर उनके कार्यालय से फोन आया। इसके बाद घर भेजने को लेकर प्रक्रिया चल रही। उनके साथ वारिसनगर प्रखंड के किशनपुर गांव निवासी इंजीनियर रशीद कमरे, रामपुर गांव निवासी इंजीनियर दानिश, रोसड़ा निवासी मॉर्बल पॉलिश करनेवाले तस्कीन, दरभंगा में सेल्स का कार्य करनेवाले सैफी, हसनपुर के मो. शमसाद भी वहां फंसे हुए हैं। सभी का आधार कार्ड की कॉपी उपलब्ध कराई गई है। जल्द ही सभी को घर लौटने की उम्मीद है।

Share This Post