समस्तीपुर Town

कोटा से कितने छात्र समस्तीपुर पहुंचें, सांसद और विधायक से पूछ रही जनता

  • कोटा से आए स्पेशल ट्रेन के यात्रियों को नहीं उतरने दिया समस्तीपुर में
  • मंगलवार सुबह पहुंची कोटो से स्पेशल ट्रेन के सारे पैसेंजरों को दरभंगा में ही उतारा गया

लॉकडाउन थ्री में प्रवासियों की घर वापसी के लिए चलायी जा रही स्पेशल ट्रेन समस्तीपुर स्टेशन पर आने की संभावना को लेकर सोमवार को प्लेटफॉर्म की घेराबंदी कर दी गई थी। मंगलवार सुबह पहुंची कोटो से स्पेशल ट्रेन के सारे पैसेंजरों को दरभंगा में ही उतारा गया। समस्तीपुर में रेल किसी भी पैसेंजर को नहीं उतरने दिया गया। इसकी पूर्व से ही तैयारी कर ली गई थी।

बावजूद रेल व जिला प्रशासन की संयुक्त निगरानी में समस्तीपुर स्टेशन की पूरी घेराबंदी कर दी थी। ताकि अगर कोई ट्रेन आती है तो प्रवासियों को सुरक्षित बाहर निकाला जा सके। इसके लिये पूरे प्लेटफार्म व स्टेशन को बांस-बल्ला से घेर दिया गया है। ताकि कोई भी प्रवासी स्टेशन पर उतरने के बाद बिना जांच बाहर नहीं जा सके। इसके लिये सभी गेट को भी बंद कर दिया गया है। मात्र एक गेट को ही बाहर जाने के लिये खोला गया है। वहीं स्टेशन पर अन्य सुविधाओं के लिये भी काउंटर आदि का निर्माण कार्य किया जा रहा है। ताकि समुचित ढंग से सबों कीका थर्मल स्क्रीनिंग की जा सके।

बता दें की मिली जानकारी के अनुसार कोटा से समस्तीपुर अभी तक एक भी छात्र नहीं आ पाए हैं। ऐसे में बहोत से छात्रों ने समाचार 9 से भी बात करके अपना दर्द बताया। जनता का यह भी कहना है की समस्तीपुर के विधायक तो मानों सिर्फ धरमपुर की जनता तक सिमट कर रह गए हैं बांकी समस्तीपुर की जनता से उन्हें कोई मतलब हैं ही नहीं और संसद प्रिंस राज के खिलाफ भि शहर में काफी नाराजगी देखि जा रही है , लोगों का कहना है की सांसद महोदय जनता की मदद के नाम पर सिर्फ AC कमरे में सारे ऐसो आराम का मज़ा लेते हुए वीडियो सन्देश दे देते हैं जिससे जनता का एक प्रतिसत भी भला होने की कोई गुंजाईश नहीं है। जनता का यह भी कहना है की अगले चुनाव में आज इस आपदा में किये गए कार्य को भुलाया नहीं जायेगा।

Share This Post