समस्तीपुर Town

समस्तीपुर जिले के 86 कोरोना पॉजिटिवों को निजी आग्रह पर होम आइसोलेशन

समस्तीपुर । कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे मरीज भी होम आइसोलेशन में रखा जा रहा है। ऐसे में जिले के 86 मरीजों निजी आग्रह पर को होम आइसोलेशन में रखा गया है। इसमें समस्तीपुर के 44, कल्याणपुर के नौ, ताजपुर के आठ, वारिसनगर के छह, पूसा व रोसड़ा के पांच-पांच, खानपुर व सरायरंजन के तीन-तीन, विभूतिपुर, उजियारपुर, दलसिंहसराय और मोरवा के एक-एक रहने वाले शामिल है। विदित हो कि चिकित्सक एवं चिकित्सा कर्मियों की तरह आम लोगों को भी होम आइसोलेशन में रहने की सुविधा प्रदान करने का आदेश जारी किया गया था।

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने इसकी जवाबदेही जिलाधिकारी को सौंपी है। किसी कोरोना पॉजिटिव मरीज को होम आइसोलेशन या होम क्वारंटाइन में रखे जाने के निर्णय के लिए जिलाधिकारी को प्राधिकृत किया है। संबंधित व्यक्ति को यह सुविधा तभी प्रदान की जाएगी जब उनके घर पर सेल्फ आइसोलेशन एवं अन्य पारिवारिक संपर्क को क्वारंटाइन करने की आवश्यक सुविधा उपलब्ध हो। जाहिर है कि कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। इस परिस्थिति में स्वास्थ्य सेवाओं पर भी दबाव पड़ा है और स्वास्थ्य कर्मी अपनी परवाह किए बिना दिन-रात मरीजों की सेवा में जुटे हैं।

नियमित रूप से करना होगा स्वास्थ्य का अनुश्रवण

प्रधान सचिव द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि होम आइसोलेशन में रहने के दौरान मरीजों का नियमित रूप से अपने स्वास्थ्य का अनुश्रवण करना होगा। वहीं, इस दौरान किसी भी प्रकार की समस्या होने पर उन्हें नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से संपर्क करना होगा। ताकि, उनका समुचित इलाज हो सके।

14 दिनों के बाद समाप्त हो जाएगा होम आइसोलेशन

जारी दिशा निर्देश में बताया गया है कि होम क्वारंटाइन में रह रहे मरीजों को सैंपल एकत्र होने के 14 दिनों तक उन्हें होम आइसोलेशन में रहना होगा। अगर उनमें कोई नए लक्षण नहीं नजर आते हैं तो 14 दिनों के उपरांत उनका होम आइसोलेशन समाप्त हो जाएगा।

होम आइसोलेशन के मरीजों को देना होगा अंडरटेकिग

होम आइसोलेशन की सुविधा चाहने वाले कोरोना के मरीजों को एक अंडरटेकिग देना होगा। अंडरटेकिग में मरीज यह सत्यापित करेगा कि मरीज अपने और अपने परिवारजनों के स्वास्थ्य पर पूरी निगरानी रखेगा और अपने या परिवारजनों के स्वास्थ्य में किसी प्रकार की जटिलता अनुभव करने पर निरीक्षण दल एवं कॉल सेंटर (104) से अविलंब संपर्क स्थापित करेगा। अंडरटेकिग के मुताबिक मरीज होम आइसोलेशन की अवधि में सभी नियमों का पालन करेगा। ऐसा नहीं करने पर उस पर कार्रवाई की जा सकती है।

होम आइसोलेशन में करना होगा इन नियमों का पालन

होम आइसोलेशन में रहने वाले पॉजिटिव मरीजों को हमेशा ट्रिपल लेयर मास्क का प्रयोग करना होगा। मरीज के लिए अगल कमरा एवं बाथरूम की व्यवस्था रहनी चाहिए। यही नहीं, निर्जलीकरण से बचाव के लिए ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ का सेवन एवं हाथों की साबुन अथवा सैनिटाइजर से लगातार सफाई करनी होगी। उन्हें निजी इस्तेमाल की वस्तुओं को अलग रखना होगा, नियमित रूप से तापमान की जांच करनी होगी, कमरे की नियमित सफाई करनी होगी तथा चिकित्सकों द्वारा दिए गए सभी निर्देशों का अनुपालन करना होगा।

Share This Post