समस्तीपुर Town

डीआरएम कार्यालय में बढ़ा कोरोना का खौफ, पांच अधिकारी और 35 कर्मी होम क्वारंटाइन

समस्तीपुर। कोरोना पॉजिटिव रेलकर्मी ने मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में काम करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों पर संक्रमण का खतरा बढ़ा दिया है। मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के दो कर्मी के कोरोना संक्रमित होने के बाद पूरा परिसर सैनिटाइज्ड करने के बाद मंगलवार को डीआरएम कार्यालय में कामकाज जारी रहा। दोनों संक्रमित कर्मी के संपर्क में आने की वजह से पांच अधिकारी और 30 कर्मचारी को होम क्वरंटाइन किया गया है। साथ ही इन्हें वर्क फ्रॉम होम की सलाह दी गई है। इसके अलावा सभी अधिकारी और कर्मचारी अपनी ड्यूटी पर तैनात रहे। दो कर्मचारी के कोरोना संक्रमित होने के कारण संपूर्ण कार्यालय को सैनिटाइज्ड कराया गया। पिछले दो दिनों रविवार और सोमवार को सभी अधिकारियों के कार्यालय कक्ष, कर्मचारियों के बैठने का स्थान, सभा कक्ष, कंट्रोल रूम के साथ-साथ अन्य स्थलों को पूरी तरह से सैनिटाइज्ड कराया गया। डीआरएम ऑफिस में कार्य करने के लिए आने वाले कर्मियों के लिए कई एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं।

थर्मल स्क्रीनिग के बाद दफ्तर में प्रवेश

दफ्तर के बाहर मुख्य गेट पर दो मीटर की दूरी पर गोले बनाए गए हैं। गोले में पंक्तिबद्ध होकर ही कार्यालय में प्रवेश की अनुमति दी गई है। मुख्य गेट पर सभी अधिकारी और कर्मचारी का इंफ्रारेड थर्मामीटर से स्क्रीनिग किया गया।

रेल अस्पताल की ओपीडी सेवा बंद

रेलवे चिकित्सालय की एक नर्स के कोरोना संक्रमण रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद ओपीडी सेवा बंद कर दिया गया है। रेल अस्पताल में कोविड-19 जांच के लिए सैंपल लिया जा रहा है। विदित हो कि डीआरएम कार्यालय के दो कर्मी के संक्रमित होने से अन्य कर्मियों में हड़कंप मच गया है। वे जहां बैठते हैं वहां उनके साथ एक दर्जन लिपिकीय कर्मचारी भी बैठते हैं।

संक्रमित के संपर्क में आए 35 को किया होम क्वारंटाइन

डीआरएम कार्यालय स्थित कार्मिक विभाग में कार्यरत एक मुख्य कार्यालय अधीक्षक का 10 जुलाई को कोविड-19 जांच कराया गया। जिसमें उनका रिपोर्ट पॉजिटिव आया। वे तीन जुलाई तक कार्यालय आए थे। उनके संपर्क में आने वाले एक अधिकारी, पांच मुख्य कार्यालय अधीक्षक, आठ कार्यालय अधीक्षक, दो अवर लिपिक और एक प्रवर लिपिक को 14 दिनों का होम क्वारंटाइन करते हुए वर्क फ्रॉम होम कार्य करने की सलाह दी गई। वहीं विद्युत विभाग में कार्यरत कर्मी भी सात जुलाई तक कार्यालय गए थे। उनका 11 जुलाई कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आया। उनके संपर्क में आए चार अधिकारी, तीन सीनियर सेक्शन इंजीनियर, दो-दो सहायक, एमसीएम, हेल्पर और एक-एक वरिष्ठ सहायक, मुख्य कार्यालय अधीक्षक, आदेशपाल, कार्यालय अधीक्षक को होम क्वारंटाइन किया गया है।

Share This Post