समस्तीपुर Town

कोरोना वॉरियर्स के रूप में ड्यूटी के दौरान संक्रमित हुए थे डीपीओ

समस्तीपुर। जिले के निवर्तमान जिला कार्यक्रम पदाधिकारी माध्यमिक की मौत शनिवार को पटना में इलाज के दौरान हो गई। वे कोरोना पॉजिटिव थे। समस्तीपुर में ही कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद पिछले एक महीने से वे पटना में भर्ती थे। उनके मौत की सूचना से शिक्षा विभाग में शोक की लहर दौड़ गई है। जिला प्रशासन ने उनकी मौत की पुष्टि की है। बता दें कि तीन दिन पहले ही निवर्तमान डीपीओ का स्थानांतरण पटना में अवकाश रक्षित पदाधिकारी के रूप में कर दिया गया था। इस तरह से जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 359 है। इसमें से चार की मौत हो चुकी है। जबकि, 239 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। इससे अब जिले में 116 एक्टिव मरीज बचे हैं। प्रवासियों को पहुंचाने की थी जिम्मेवारी जानकारी के अनुसार समस्तीपुर जिला के शिक्षा विभाग के एक डीपीओ की मौत शनिवार की सुबह पटना में हो गई। एक महीने पहले वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। बताया जाता है कि दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासियों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा समस्तीपुर प्रखंड कार्यालय के समीप उच्च विद्यालय परिसर में गठित वाहन कोषांग में उन्हें तैनात किया गया था। इसी दौरान उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई। जब जांच कराया गया तो वे कोरोना संक्रमित पाए गए थे। उन्हें इलाज के लिए पटना के एनएमसीएच में भर्ती कराया गया था। स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आ रही थी पिछले कुछ दिनों से उनके स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आ रही थी। उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। इसी क्रम में शनिवार की सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन की खबर सुनते ही शिक्षा विभाग में शोक की लहर दौड़ गई है। दूसरी ओर अधिकारियों में कोरोना को लेकर और भय व्याप्त हो गया है।

Share This Post