बिहार

चीन सीमा पर शहीद जवानों के परिजन को नौकरी देगी सरकार, नीतीश कैबिनेट की बैठक में लगी मुहर

पटना. भारत-चीन की सीमा पर शहीद हुए बिहार के जवानों के परिजन के सरकार नौकरी देगी। शुक्रवार को हुई नीतीश कैबिनेट की बैठक में 24 एजेंडों पर मुहर लगी है। बिहार के पांच जवान चीन की सीमा पर शहीद हो गए थे। इसमें शहीद सिपाही चंदन कुमार, शहीद अमन कुमार, शहीद जय किशोर सिंह, शहीद हवलदार सुनील कुमार और शहीद सिपाही कुंदन कुमार के परिजन को सरकारी नौकरी दी जाएगी।

इसके अलावा कैबिनेट ने बिहार में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नई नीति को मंजूरी दे दी है। यह 2025 तक लागू रहेगा। नई नीति के तहत प्राथमिकता वाले क्षेत्र-ड्राई वेयर हाउस, फार्मिंग प्रोसेसिंग, ट्रांसपोर्टेशन, बॉटलिंग इकाई, सब्जी एंड हॉर्टिकल्चर को शामिल किया गया है। 500 करोड़ रुपए निवेश करने पर सरकार छूट देगी। कम से कम 500 लोगों को रोजगार देना होगा।

इन एजेंडों पर भी लगी मुहर

  • पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के अंतर्गत बिहार वनों के क्षेत्र पदाधिकारी संवर्ग नियमावली 2013 को संशोधन को मंजूरी
  • समस्तीपुर न्यायालय के अंतर्गत शाहपुर पटोरी में फौजदारी न्यायालय के लइए दो पदों का सृजन
  • बिहार प्रशासनिक सेवा के अधिकारी आलोक कुमार तत्कालीन जिला प्रबंधक राज्य खाद्य निगम वर्तमान अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को अनिवार्य सेवानिवृत्ति
  • हर साल 25 सितंबर को राजकीय समारोह के रूप में मनाई जाएगी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती
Share This Post