समस्तीपुर Town

समस्तीपुर: बागमती का जलस्तर बढ़ा, निचले इलाके में फैला पानी

समस्तीपुर। लगातार रूक-रूक कर हो रही वर्षा से जिले से गुजरने वाली नदियों के जलस्तर में वृद्धि हो रही है। गंगा नदी का जलस्तर जहां खतरे के निशान से महज 1 मीटर 36 सेमी नीचे हैं वहीं बागमती नदी के जलस्तर में काफी वृद्धि हुई है। इसका पानी निचले इलाके में फैलना आरंभ हो गया है।

कल्याणपुर, संस : प्रखंड क्षेत्र से गुजरने वाली बागमती नदी के जल स्तर में वृद्धि के बाद शनिवार को इसका पानी निचले इलाके में फैल गया। रमजान नगर चौर में इसके प्रवेश करते ही लगभग एक दर्जन परिवार में दहशत फैल गया । पूर्व मुखिया कैलाश सहनी ने चौर में बसों लोगों को ऊंचे स्थानों पर जाने की सलाह दी। वहीं सलहा मोइन के समीप अनुसूचित जाति के लालो राम का घर कट गया है। कई किसानों का 50 एकड़ में फैला धान भी जलप्लावित हो गया है। अंचलाधिकारी अभय प्रकाश ने भी जलस्तर में वृद्धि की पुष्टि की है। सिघिया, संस : बाढ़ को लेकर सिघिया प्रखंड हाई अलर्ट पर है। फ्लड फाईटिग का कार्य प्रारंभ है।जबकि दूसरी ओर करेह के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है। केल्हुआ घाट एवं राजघाट में खतरे के निशान से महज 02 फीट नीचे है। वहीं जीवछ, कमला बलान एवं कोसी नदी का पानी भी प्रखंड क्षेत्र के पूर्वी सीमा पर दस्तक दे चुका है।अंचलाधिकारी ने बताया कि संभावित बाढ़ के खतरे को देखते हुए तैयारी प्रारंभ कर दी गई है। राहत एवं बचाव कार्य से जुड़े कर्मचारियो की छुट्टियों को रद्द कर दिया गया है।

गंगा नदी के जलस्तर में वृद्धि जारी, 24 घंटे में 25 सेंटीमीटर का उछाल

मोहनपुर, संस : विगत कई दिनों से जलग्रहण क्षेत्र में हो रही लगातार बारिश से गंगा नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि जारी है। धीरे-धीरे यह खतरे के निशान की ओर ऊपर उठ रही है । बाढ़नियंत्रण प्रमंडल, दलसिंहसराय के मोहनपुर स्थित सरारी कैम्प से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर यह विगत 24 घंटे में 25 सेंटीमीटर बढ़कर 44•14 मीटर पर आ गया है, जो खतरे के निशान से मात्र एक मीटर 36 सेंटीमीटर नीचे है ।जलस्तर की प्रवृति फिलहाल बढ़ने की ही है ।जेई जितेश रंजन ने बताया कि बंडाल व तटबंध सुरक्षित हैं तथा चौबीसो घंटे उसपर निगरानी रखी जा रही है। शनिवार की शाम डीएम रसलपुर, कटाव-निरोधी बंडाल व बांध का निरीक्षण करने पहुंचे। वहां उपस्थित बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, दलसिंहसराय के एसडीओ प्रशांत किशोर व अन्य अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिया। बाद में वे पटोरी प्रखंड के हेत्तनपुर धमौन पहुंचकर भी निरीक्षण किया । मौके पर मौजूद एसडीओ मो शफीक ने बताया कि बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, दलसिंहसराय के कार्यपालक अभियंता की अनुपस्थिति पर डीएम ने गुस्से का इजहार करते हुए उनसे स्पष्टीकरण की मांग की।

वाया नदी के तटबंधों का डीएम ने लिया जायजा

मोहिउद्दीननगर,संस: संभावित बाढ़ को दखते हुए डीएम शशांक शुभंकर ने वाया व गंगा नदी के तटबंधों का निरीक्षण किया। उन्होंने टूटे जगहों की मरम्मत अतिशीघ्र करने का निर्देश दिया। विद्यापतिनगर,संस : डीएम ने मऊ धनेशपुर दक्षिण,शेरपुर,बालकृष्णपुर मडवा व बाजिदपुर पंचायतों में गंगा की सहायक वाया नदी के चिनगिया तटबंध का निरीक्षण किया उन्होंने कई स्लुस गेट का भी अवलोकन किया। डीएम ने नाव रजिस्ट्रेशन की जानकारी सीओ अजय कुमार से ली। कहा कि बाढ़ के दौरान बिना रजिस्ट्रेशन के नाव नहीं चलाए जाएंगे। मौके पर एसडीओ ज्ञानेन्द्र कुमार,एएसडीओ अनिल कुमार,बीडीओ प्रकृति नयनम्,सीओ अजय कुमार,थानाध्यक्ष शिवजी पासवान आदि मौजूद रहे ।

Share This Post