समस्तीपुर Town

रोसड़ा में जनवितरण में गड़बड़ी पर फूटा गुस्सा,एसएच 88 को पांच घंटे तक रखा जाम

समस्तीपुर । रोसड़ा में जन वितरण प्रणाली विक्रेताओं द्वारा गड़बड़ी के विरुद्ध ढट्ठा के उपभोक्ताओं ने जमकर हंगामा किया। विश्वकर्मा चौक पर टेंट लगा सैकड़ों उपभोक्ता एसएच 88 को पांच घंटे तक जाम रखा। इसके कारण रोसड़ा-सिघिया पथ पर यातायात ठप रहा। वाहन सवार व चालकों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ा। आक्रोशित उपभोक्ता डीलर और पदाधिकारियों के विरुद्ध जमकर नारेबाजी कर रहे थे। इस बीच पहुंचे आपूर्ति पदाधिकारी को भी आंदोलनकारियों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। वहीं जामस्थल के निकट ही एक डीलर के घर पर पहुंच कर भी आंदोलनकारियों ने नारेबाजी की।

सैकड़ों की संख्या में थे प्रदर्शनकारी

भिरहा दक्षिण पंचायत के ढट्ठा गांव के दो डीलर हरि नारायण महतो एवं दीपक पासवान द्वारा धांधली तथा उपभोक्ताओं से दु‌र्व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए सैकड़ों लोग सड़क पर उतर गए। सुबह 7:30 बजे ही सैकड़ों महिला-पुरुष गांव के चैराहे पर जमा हुए और डीलर तथा विभागीय व प्रशासनिक पदाधिकारियों के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए सड़क के बीचसोंबीच बैठकर यातायात बाधित कर दिया। करीब दो घंटे बाद धूप की तपिश बढ़ने पर आंदोलनकारी उपभोक्ताओं ने चौराहे पर ही टेंट लगाकर अपना आंदोलन जारी रखा। सूचना पर पुलिस पदाधिकारी के साथ पहुंचे आपूर्ति पदाधिकारी धीरेंद्र कुमार द्वारा घंटों समझाने और डीलर के विरुद्ध कार्रवाई करने का आश्वासन देने के बावजूद आंदोलनकारी शांत नहीं हुए और एमओं के विरुद्ध भी नारेबाजी करने लगे।

बीडीओ को सौंपे गए मांग पत्र

करीब चार घंटे बाद जाम स्थल पर पहुंचे प्रखंड विकास पदाधिकारी महताब अंसारी द्वारा डीलर के विरुद्ध कार्रवाई तथा उपभोक्ताओं को सभी सुविधा देने के आश्वासन पर आंदोलनकारियों ने 12:30 बजे जाम हटाया। उपभोक्ताओं द्वारा बीडीओ को सौंपे गए मांग पत्र में राशन कार्ड को अविलंब आधार लिक करना, कम तौल और अवैध वसूली पर रोक लगाना, नए राशन कार्ड का वितरण, पीलाकार्ड धारकों को राशन मुहैया कराना, उपभोक्ताओं के साथ दु‌र्व्यवहार के लिए डीलर के विरुद्ध कार्रवाई तथा समय पर दुकान खुलवाने की मांग शामिल है। उपभोक्ताओं ने तीन दिनों के अंदर मांग नहीं माने जाने पर पुन: आंदोलन की चेतावनी दी है।

सहायक जिला आपूर्ति पदाधिकारी धीरेंद्र कुमार ने बताया कि आपूर्ति डीलर के विरुद्ध लगाए गए आरोपों की जांच कर कार्रवाई की अनुशंसा की गई है।

Share This Post