जरूर पढ़ें बिहार

दूसरे राज्यों में फंसे सभी प्रवासी मजदूरों को बिहार लाया जाएगा: CM नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्णय लिया है कि दूसरे राज्यों में फंसे सभी प्रवासी मजदूरों को बिहार लाया जाएगा इसकी पूरी व्यवस्था की जा रही है। मजदूरों को इसके लिए बिल्कुल ही परेशान होने की जरूरत नहीं है। पीआरडी के सचिव अनुपम कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी।

प्रवासियों को वोट बैंक मानने वालों का चेहरा उजागर: जदयू
प्रदेश जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बाहर फंसे प्रवासियों को पुनः विश्वास दिलाया है कि जो भी प्रवासी श्रमिक आना चाहते हैं उन्हें हर हालत में लाया जाएगा। राज्य सरकार का संकल्प है कि चुनौती भरे वक्त का सभी को मिलकर धैर्य के साथ मुकाबला करना है। संजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री जी का लक्ष्य जरूरतमंदों तक मदद पहुंचाने का है लेकिन जो लोग प्रवासियों को वोट बैंक के तौर पर देख रहे हैं उनका चेहरा उजागर हो गया है। विपक्ष ने एकबार फिर साबित किया है कि उसके जिम्मे केवल अवसरवाद की सियासत है। राज्य सरकार प्रवासियों को लेकर जिस सहजता से कदम बढ़ा रही है उससे विपक्ष हताश है। कहा कि नीतीश जी ने जिस तरह दिन-रात मेहनत कर आपदा से मुकाबले के लिए फैसले किये हैं उसके बाद विपक्ष मुद्दा विहीन हो गया है। खोखली सियासी बयानबाजी के अलावे विपक्ष के पास फिलहाल कोई काम नहीं बचा है। 

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा विशेष आर्थिक पैकेज के पांचवें किस्त की घोषणा का स्वागत किया है।  रविवार को जारी बयान में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सार्वजनिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में खर्च में बढ़ोत्तरी, ग्रामीण एवं शहरी इलाकों में स्वास्थ्य एवं वेलनेस सेंटर्स की संख्या बढ़ाने, लैब नेटवर्क को बेहतर बनाने, महामारी से मुकाबले के लिए जिला एवं प्रखंड स्तर पर एकीकृत स्वास्थ्य प्रयोगशाला की स्थापना, सहित हेल्थ वर्कर्स के लिए 50 लाख का बीमा एवं उन्हें सुरक्षा देने के लिए महामारी एक्ट में बदलाव स्वास्थ्य के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा। 

Share This Post